AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

सोमवार, 13 मई 2019

गौशालाओं की समस्या पर डीएम हुए गंभीर

फतेहपुर, शमशाद खान  । जनपद में गौशालाओं की अव्यवस्थाओं के कारण गायों की हुई मौत की खबर मीडिया में वायरल होने की सूचना मिलते ही जिलाधिकरी संजीव सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मातहतों को तत्काल गौशालाओ का निरीक्षण करने के निर्देश दिये। साथ ही खुद भी गौशालाओ का निरीक्षण करने के साथ ही पंचायत सचिव व गौशालाकर्मियों को सभी तरह की व्यवस्था दुरुस्त करने का निर्देश दिया। 
सोमवार को पत्रकारों से औपचारिक बातचीत में जिलाधिकरी संजीव सिंह ने बताया कि जनपद की लगभग सभी गौशालाओ का निरीक्षण उनके द्वारा किया जा चुका है। जहाँ गौशालाओ में पशुओं के लिए पानी तालाबो में पर्याप्त पानी भरे हुए है जबकि चारे के लिये चरही की भूमि पर हरे चारे की बुआई कराई जा चुकी है। पशुओं के लिये सभी गौशालाओ में भूसे की रखने के लिए भंडारण बने हुए है। जिसमे पर्याप्त भूसे की व्यवस्था है। जबकि कुछ गौशालाओ में स्थान न होने के कारण आस पास के गाँव में भूसे को रखने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने लोगो से सोशल मीडिया में चलने वाली खबरो को भ्रामक बताते हुए लोगो से इसे संज्ञान न लिए जाने का आग्रह किया। साथ ही गौशालाओ की व्यवस्था को सुधारने में समाजसेवियों स्वयंसेवी संगठनों से आगे आने के लिए सहयोग दिए जाने का आह्वान किया। डीएम ने कहा कि गौशालाओ में पशुओं के मृत होने की दशा में गौशालाओ की भूमि पर ही उन्हें गड्ढे बनाकर उन्हें दफना दिया जाता है। जिसके लिए प्रशासन द्वारा जेसीबी की व्यवस्था होने में कुछ विलम्ब हो जाता है। ऐसी दशा में गौशालाओ का वीडियो वायरल कर अव्यवस्थाओं को दर्शाना गलत है। उन्होंने कहा कि सभी गौशालाओ में रहने वाले पशुओं की टैगिंग का कार्य जिला पशु अधिकारी के नेतृत्व में टीम द्वारा किया जा रहा है। जिसमे चिकित्सको द्वारा पशुओं के स्वास्थ की जांच भी की जा रही है। साथ ही उनके लिये पशुआहार की व्यवस्था की जा रही है। गौशालाओ में पशुओं के चारे के लिये पंचायत सचिवों को भूसे की खरीद करने को निर्देशित किया गया है। साथ ही उसे रखने के लिये गौशालाओ के नजदीक गांव में लोगो के खाली घरों को किराए पर लेकर उसमे भूसे को स्टोरेज किया जायेगा। जिससे वर्ष भर मवेशियो के लिए भोजन की व्यवस्था की जा सकेगी। वही उन्होंने समाजसेवियों से गौशालाओ की समस्याओं के निस्तारण के लिये कमेटी का गठन कर गौशालाओ के संचालन करने में सहयोग करने का आह्वान किया। साथ ही लोगो से अफवाहों पर ध्यान न देने को कहा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट