AMJA BHARAT एक वेब न्‍यूज चैनल है जिसे कम्‍प्‍यूटर, लैपटाप, इन्‍टरनेट टीवी, मोबाइल फोन, टैबलेट इत्‍यादी पर देखा जा सकता है। पर्यावरण सुरक्षा के लिये कागज़ बचायें, समाचार वेब मीडिया पर पढें

शनिवार, 18 मई 2019

छुट्टी के दिन प्राइवेट गाड़ी से अवैध खनन पकड़ने पहुंचे डीएम

फतेहपुर, शमशाद खान । यमुना नदी की कोख से लाल सोने के अवैध खनन किये जाने की मिल रही शिकायतो का संज्ञान लेते हुए शनिवार को छुट्टी का दिन होने के बाद भी जिलाधिकारी संजीव सिंह व उप जिलाधिकारी प्रह्लाद सिंह ने असोथर थाने के कोर्रा कंनक स्थित खण्ड 4 की खदान पर पहुंच छापेमारी की। डीएम के छापे में मौके पर घाटों पर पोकलैण्ड मशीन समेत कई तरह की मशीनों से अवैध खनन किया जाता हुआ मिला। कोर्रा कनक स्थित घाट से नदी की धारा के बीच पुल बनाकर अवैध खनन किये जाने की शिकायत जिलाधिकारी संजीव सिंह को काफी समय से मिल रही थी। प्रशासनिक स्तर से कई बार छापेमारी की कार्रवाई होने के बाद भी अवैध खनन में अंकुश लगाने में नाकाम रहने पर खनन माफियाओं को सबक सिखाने व रंगे हाथों पकड़ने के लिये शनिवार को बुद्ध पूर्णिमा की सरकारी छुट्टी होने पर जिलाधिकारी संजीव सिंह प्राइवेट कार से घाट पहुँचे। जहाँ उन्होंने अपनी आँखों से माफियाओं द्वारा कालिंदी का सीना चीरकर लाल सोने की खुली लूट देखी और अपने मोबाइल पर उसकी रिकार्डिंग भी की। घाट पर डीएम के पहुँचने की सूचना जैसे ही माफियाओ व उनके गुर्गो को मिली तो उनमें हड़कम्प मच गया। आनन फानन में माफियाओ के गुर्गो द्वारा जेसीबी व पोकलैण्ड मशीनों को ठिकाने लगाने का काम शुरू कर दिया गया। उधर जिलाधिकारी द्वारा खान का निरीक्षण करने की सूचना  एसओ राजेंश मौर्य को मिली तो वह भी भागते हुए कोर्रा कंनक के खण्ड चार पर पहुंचे। डीएम के आदेश पर पोकलेन मशीन जेसीबी अवैध रूप से मोरंग ले जाते हुए ट्रकों के अलावा खनन कार्य में लगे ट्रक्टरों पर भी कार्रवाई की गयी। डीएम द्वारा अवैध रूप से खनन किये जाने की हकीकत जानने के लिए छुट्टी के दिन वह भी प्राइवेट गाड़ी से जाना लोगो के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। लोगो का कहना रहा कि माफियाओ की अधिकारियो में पैठ के कारण बड़े अफसरों के निरीक्षण की जानकारी मौरंग माफियाओ को पहले ही मिल जाती थी। अफसरो के पहुंचने से पहले ही घाटों पर सब कुछ दुरुस्त कर दिया जाता है। जिलाधिकारी संजीव सिंह द्वारा बिना पूर्व सूचना दिए व प्राइवेट गाड़ी से निरिक्षण करने से माफियाओ द्वारा घाटों पर मौरंग की लूट किये जाने की हकीकत एक बार फिर से सामने आयी है। अवैध खनन पर जिलाधिकारी संजीव सिंह का सख्त रुख कर्रवाई के रूप में माफियाओ पर गाज बनकर गिरेगा या फिर हर बार की तरह मौरंग माफिया अपने रसूख व सत्ता की हनक के दम पर सब कुछ मैनेज कर लेंगे यह एक बड़ा सवाल है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Advertisement

Advertisement

लोकप्रिय पोस्ट