Recent comments

Breaking News

भाजपा व अन्य संगठनों ने भारत रत्न के निधन पर आयोजित की शोकसभा

फतेहपुर, शमशाद खान । भारतीय राजनीति के शिखर राजनेताओं में शामिल भारत रत्न पूर्व प्रधानमन्त्री अटल बिहारी बाजपेयी के निधन पर जनपद में सरकारी गैर सरकारी संगठनो,विद्यालयो के अलावा बीजोपी जिला कार्यालय में जिलाध्यक्ष प्रमोद की अध्यक्षता में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया जिसमे दो मिनट का मौन धारण कर उनकी आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना की गई। बताते चले की भारतीय राजनीति के पुरोद्धा एवं पूर्व प्रधामनंत्री अटल बिहारी बाजपेयी का गुरूवार को लम्बी बीमारी के बाद अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान  संस्थान में 93 वर्ष की आयु में निधन हो गया वह लम्बे समय से अस्वस्थ चल रहे थे। पूर्व प्रधानमंत्री के निधन की खबर जैसी ही मीडिया के जरिये जनपद में पहुंची तो चारो ओर मातम छा गया। भाजपा कार्यकर्ताओं के अलावा बड़ी संख्या में जनपद लोग उनके अंतिम दर्शन एवं यात्रा में शामिल होने के लिये दिल्ली निकल पड़े। वहिं सुबह से ही जनपद के अलग अलग स्थानों पर पूर्व प्रधामनंत्री अटल बिहारी बाजपेयी को श्रद्धांजलि देने के लिए शोक सभा का आयोजन किया गया। जिसमे जीटी रोड स्थित भाजपा जिला कार्यालय में जिलाध्यक्ष प्रमोद द्ववेदी की अध्यक्षता में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया जिसमें कृषि राज्यमन्त्री राणवेन्द्र प्रताप धुन्नी सिंह,विधायक करण सिंह पटेल,अर्चना त्रिपाठी, मनोज शुक्ला,पंकज सिंह, ज्योति प्रवीण, नीलिमा सिंह चैहान, कुलदीप भदौरिया,गायत्री सिंह, रघुवीर लोधी,पंकज त्रिबेदी,सुशील तिवारी,राजा सिंह कछवाह,शैलेंद्र रघुवंशी,पुष्पराज पटेल,दुर्गादत्त शास्त्री, त्रिपाठी,विजय प्रताप सिंह, आदि रहे तो वहीं जनपद के अन्य स्थानों सरस्वती बाल मंदिर इंटर कालेज रघुवंशपुरम में प्रबन्धक राकेश त्रिवेदी के अध्यक्षता में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई तो अधिवक्ता संघ की ओर से भी दो मिनट का मौन धारण कर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की, वैश्य एकता परिषद के तत्वाधान में कृष्ण बिहारी नगर स्थित एक मैरिज गार्डेन में विनोद गुप्ता की अगुवाई में शोक सभा का आयोजन किया गया।
भारत की राजनीती में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी को अहम कड़ी माना जाता है। भारतीय जनसंघ के समय मात्र 2 सींटो से लेकर बहुमत हासिल करने तक के लंबे सफर का सँघर्ष करने वाले और भारतीय जनता पार्टी की स्थापना से लेकर उसे शीर्ष तक पहुंचाने में अटल जी का अहम रोल रहा है एक साधारण कार्यकर्ता से लेकर प्रधानमंत्री पद तक का सफर तय करना उनके लिये बेहद सँघर्ष भरा रहा। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई में एनडीए नीत गठबन्धन में 3 बार प्रधामनंत्री पद की शोभा बधाई। उनके कार्यकाल में भारत में जहाँ सड़क परिवहन,विनिवेश जैसे अनेक कार्य हुए नदियों को आपस में जोडने की परियोजना की शुरुआत की गई जबकि पोकरण परीक्षण करने के साथ भारत परमाणु शक्ति सम्पन्न देश बन सका।जिससे भारत न केवल आर्थिक रूप से मजबूत हुआ बल्कि उसकी धाक दुनिया भर के देशों में बढ़ी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अटल जी निधन पर गहरा दुख जताते हुए देश में सात दिनों का राष्ट्रीय शोक घोषित किया। अटल जी के सम्मान में राष्ट्रध्वज को झुका दिया गया जबकि इस दौरान घोषित सात दिनों के राष्ट्रीय शोक की अवधि में कोई सरकारी कार्यक्रम आयोजित नही किया जायँगे। तो प्रदेश की योगी सरकार ने गहरा दुख जताते हुए एक दिन का राजकीय अवकाश घोषित कर दिया। जनपद में सरकार के मंत्रियों से लेकर विपक्षी दलों के छोटे बड़े नेताओ ने भी उनके निधन पर दुःख व्यक्त करते हुए राष्ट्र की बड़ी क्षति बताते हुए दो मिनट का मौन धारण कर उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई।

No comments

दिव्यांगों में सहायक उपकरण का वितरण

शिवपुर,  विक्की मध्यानी  । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर प्रदेश भर में मनाए जा रहे सेवा सप्ताह के तहत सूबे के कैबिनेट मंत्...