Recent comments

Latest News

हर दिन बदलते मौसम से अस्पताल मरीजों से हुआ फुल

फतेहपुर, शमशाद खान । मौसम में जिस तरह से तब्दीली आयी है उससे डायरिया का प्रकोप तो कम हो गया है। लेकिन वायरल फीवर सहित डेगू और मलेरिया सहित टायफाइड व गैस्ट्रो के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है। अस्पताल में वायरल फीवर सहित मलेरिया के रोगियो की संख्या में इजाफा हुआ है। रोजाना लगभग 1 हजार से अधिक मरीजों का जिला अस्पताल में पंजीकरण हो रहा है। जिनमें से ज्यादातर सर्दी जुकाम, बुखार, मलेरिया, टायफाइड  के मरीज निकल रहे हैं ग्रामीण क्षेत्रो की स्वास्थ्य सेवाओं की दयनीय स्थिति के चलते मरीजो को समुचित इलाज नही मिल पा रहा है। सबसे अधिक दिक्कत चिकित्सकों का मनमाना रवैया है। सीएमओं आफिस से साठगांठ होने के चलते दर्जनों चिकित्सक महीने में कुछ दिन ही डयूटी पर आते है। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में तैनात चिकित्सकों की मनमानी लोगो पर भारी पड रही है। साथ हीमौसम के अनुरूप दवाओ की उपलब्धता में कमी भी व्यवस्था को बाधित कर रही है। गिनी-चुनी दवाओं के सहारे इलाज मरीजों को मिल तो रहा है। लेकिन उनकी सेहत में सुधार नही हो रहा है। चिकित्सको की माने तो बदल रहे मौसम में खान-पान के अलावा मच्छरजनित बीमारियों से सावधान रहने की जरूरत है। ऐसे मौसम में ताजा भोजन एवं साफ पानी का इस्तेमाल किया जाये। घर के आस-पास गंन्दा पानी एकत्र न हो पाये, पानी एकत्र होने पर मलेरिया व डेगू का खतरा रहता है। 

No comments