Recent comments

Breaking News

शिरोमणि भामा शाह का धूमधाम से मनाया 471 वां जन्म दिवस

फतेहपुर, शमशाद खान । अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद के तत्वाधान में महान देशभक्त व दानवीर शिरोमणि भामा शाह का 471 वां जन्म दिवस धूमधाम से मनाया गया। उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प दोहराते हुए एक-दूसरे को मिष्ठान खिलाकर जन्मदिन की बधाई दी गयी। 
कैम्प कार्यालय पीलू तले चैराहे पर अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद द्वारा महान दानवीर शिरोमणि भामा शाह का जन्म दिन बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए परिषद के युवा जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र शरन सिम्पल ने कहा कि वैश्य समाज आज ऐसे महापुरूष का जन्म दिवस मना रहा है जिसने मातृभूमि की रक्षा के लिए अपना सर्वत्र दान कर दिया था ऐसे महापुरूष के जीवन शैली से समाज को एक दिशा प्राप्त होती है। मुख्य अतिथि राष्ट्रीय महासचिव विनोद कुमार गुप्त ने कहा कि 29 अप्रैल 1547 में मेवाड़ राजस्थान में जन्मे दानवीर शिरोमणि भामाशाह महाराणा प्रताप के अच्छे मित्र व सलाहकार थे। जब महाराणा प्रताप को युद्ध हेतु धन की आवश्यकता होती थी तब भामाशाह अपने कोष से उनको आर्थिक मदद करते थे। उनके दानवीरता के चर्चे आस-पास के क्षेत्र में बड़े सम्मान के साथ किये जाते थे। हल्दी घाटी के युद्ध में पराजित महाराणा प्रताप के लिए उन्होने अपनी निजी सम्पति से इतना धन दान दिया था जिससे 2500 सैनिकों का बारह वर्ष तक निर्वाह हो सकता था। प्राप्त सहयोग से महाराणा प्रताप में नया उत्साह व नई ऊर्जा पैदा हुयी और उन्होने पुनः सैन्य शक्ति संगठित कर मुगल शासकों को पराजित कर फिर से मेवाड़ का राज्य प्राप्त किया। सत्येन्द्र अग्रहरि ने कहा कि भामाशाह ऐसे दानवीर व त्यागी पुरूष थे। आत्म सम्मान और त्याग की यही भावना आपको स्वदेश धर्म और संस्कृति रक्षा करने वाले देश भक्त के रूप में शिखर पर स्थापित कर देती है। युवा राष्ट्रीय महासचिव अरूण जायसवाल ने कहा कि ऐसे महापुरूषों के जन्म दिवस से हमको उनके आदर्शों से प्रेरणा प्राप्त होती है। जिससे समाज को एक नई दिशा मिलती है। आने वाली युवा पीढ़ी अपने महापुरूषों के जीवनकाल को याद रख सके। बैठक में वेद प्रकाश गुप्त, राधेश्याम हयारण, गुड्डू मोदनवाल, अमित शरन बाबी, दिलीप मोदनवाल, अमित गुप्त, विनय शरन, आशीष अग्रहरि, संतोष गुप्त, अमित शिवहरे, शिवकुमार गुप्त, राजेश मोदनवाल आदि मौजूद रहे। 

No comments

कश्मीर पर घिरा चारों तरफ पाकिस्तान

देवेश प्रताप सिंह राठौर  (वरिष्ठ पत्रकार) भारतवर्ष में अंदरूनी राजनीति के कुछ वोट बैंक के कारण भारत माता को धोखा दे रहे हैं कुछ विपक...