Recent comments

Latest News

मां के छठवें स्वरूप कात्यायनी का श्रृंगार कर की पूजा - अर्चना

फतेहपुर, शमशाद खान । चैत्र नवरात्रि के छठवें दिन भी सुबह से ही भक्तों की टोलियों ने माता के दरबार में पहुंचकर छठवें स्वरूप कात्यायनी का भव्य श्रंगार किया। दुर्गा मन्दिर समेत शहर क्षेत्र के अन्य मंदिरों में माॅ दुर्गा केे दर्शन के लिये भक्तों की भीड़ जमा रही। जयकारों की गूंज से वातावरण भक्तिमय रहा। आरती के बाद मन्दिरों में जुटे भक्तों को प्रसाद वितरित किया गया। वहीं महिलाओं ने ढोल की थापों व मंजीरों की धुन में देवी मां के गीत गाकर मां की आराधना की।
गुरूवार को माॅ दुर्गा के छठवें स्वरूप की आराधना की गयी। बताते है कि मां दुर्गा की छठवीं शक्ति कात्यायनी है। इस स्वरूप की पूजा अर्चना करने से भक्त बड़ी सहजता से धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष से पुरूषार्थ को प्राप्त कर लेते हैं। मांॅ के इस स्वरूप के दर्शन पूजन को लेकर दुर्गा मन्दिर समेत अन्य मंदिरों  में सुबह व देर रात तक भक्तों का जमावड़ा रहा। शहर सहित ग्रामीणांचलों के दुर्गा मन्दिरों में भक्ति गीत बजाये जाते रहे। जिनकी गूंज से इलाका गूंजता रहा। वहीं पूजा अर्चना व आराधना के समय मां की जय-जयकार से वातावरण भक्तिमय रहा। दर्शन के लिये दोंनों पहर मन्दिरों में महिलाओं व पुरूषों की भारी भीड़ रहीं। घंटों लाइन में लगकर भक्तों ने मां कात्यायनी की पूजा अर्चना की। मन्नत मानने वाले भक्तों ने मन्नत पूरी होने पर प्रसाद वितरित किया। वहीं व्रत रखने वाले भक्तों ने पूरी आस्था के साथ मां की आराधना की। पूजा अर्चना व आरती के बाद प्रसाद वितरित किया गया। यही सिलसिला दूसरे पहर भी जारी रहा। नगर के विभिन्न स्थानों पर स्थित मन्दिरों में भक्ती गीतों से नगर का माहौल भक्तिमय रहा। माॅ शेरावाली के जयकारों से पूरा नगर गूंजता रहा। नवरात्र के छठवें दिन देवी भक्तों ने अपने-अपने घरों में कन्याओं को भोजकर कराकर मां की आराधना की। 

No comments