Recent comments

Latest News

पत्नी व साले की गोली मार कर हत्या

डेढ़ साल पहले हुई थी महिला की शादी 

बिजनौर। संजय सक्सेना।थाना कोतवाली शहर क्षेत्र के ग्राम निजामतपुरा में एक युवक ने अपनी पत्नी और साले की गोली मारकर हत्या कर दी। आरोपी युवक की लगभग डेढ़ साल पहले ही शादी हुई थी। उसकी पत्नी हरियाली तीज पर मायके आई थी। पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरु कर दी है। 
जानकारी के अनुसार क्षेत्र के ग्राम निजामतपुरा निवासी स्व. वीरसिंह सैनी की पुत्री जयवती की शादी लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व नूरपुर क्षेत्र के ग्राम धमरौला निवासी रामौतार सैनी के पुत्र सोमपाल से हुई थी। बताया जाता है कि विवाह के बाद से ही सोमपाल की अपने साले अरविंद से नहीं बनती थी। कुछ दिन पूर्व जीजा साले में किसी बात को लेकर मामूली मारपीट हो गई थी। हरियाली तीज पर जयवती मायके आई थी। तब से वह मायके में ही रह रही थी। जयवती के माता-पिता नहीं हैं। उसके दो भाई अरविंद और विक्रम के अलावा दादी हैं। जयवती का पति सोमपाल बीती रात लगभग 9 बजे ससुराल आया और जयवती को गंज में चल रहे छड़ी जाहर दीवान के मेले में प्रसाद चढ़ाने ले गया। बाद में फोन कर अपने साले अरविंद को भी बुला लिया। 
देर रात तक तीनों जब मेले से वापस नहीं लौटे तो परिजनों को चिंता होने लगी ,सुबह उन्होंने क्षेत्र में खोज शुरू की तब ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि हरिचंद के खेत पर जयवती का शव पड़ा है। सूचना पर समस्त परिजन व ग्रामीण मौके पर पहुंचे शव को देखकर कोहराम मच गया। मृतका जयावती के सर में गोली लगी थी तथा लगभग दो मीटर की दूरी पर भारी मात्रा में खून व  पिस्टल के दो जिंदा कारतूस पड़े थे। ग्रामीणों तथा  जयवती के परिजनों ने साथ गए जयवती के भाई अरविंद व पति सोमपाल को भी खोजना प्रारंभ किया तब घटनास्थल से लगभग एक किलोमीटर की दूरी पर अरविंद का शव पतराम सैनी के खेत पर पड़ा मिला। उसका शव भी खून से सना था। परिजनों ने दोनों भाई बहन की हत्या का आरोप सोमपाल  पर लगाया है। थाना कोतवाली शहर प्रभारी निरीक्षक रमेश चंद शर्मा, पुलिस चौकी गंज प्रभारी गौरव कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे तथा दोनों के शव, जिंदा कारतूस व अरविंद के शव के पास पड़े  मोबाइल के सिम को कब्जे में लेकर दोनों शव को पीएम के लिए भेज दिया।
इस डबल मर्डर को लेकर परिजनों का कहना है कि सोमपाल ने अकेले इस घटना को अंजाम नहीं दिया होगा, सोमपाल के साथ उसके और साथी भी होंगे ।
भाई बहन के मर्डर को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं। जयवती के घर में कोहराम से गांव में शोक है। ग्रामीणों का कहना है कि लड़की जयवती का मायका अत्यन्त गरीब है, परिवार में मजदूरी करके घर का चूल्हा जलता है। उधर पुलिस ने मामले की तहरीर के आधार पर आरोपी की तलाश शुरु कर दी है। अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि घटना के पीछे की वजह क्या है, लेकिन कोई दहेज की बात कह रहा है तो किसी का कहना है कि आरोपी के चालचलन को लेकर महिला के भाई अपने बहनोई को टोका करते थे। 
पंकज की मौत हो गई, जबकि मृतक प्रमोद का भाई दिनेश कुमार, उनके साथी मुकेश व अमित घायल हो गये। कैंटर और ट्रक में सवार लोगों के भी चोटें आईं। दुर्घटना की खबर मिलते ही मृतकों के परिवारों में कोहराम मच गया। सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पीएम हाउस पर मृतकों के परिजनों और रिश्तेदारों की भीड़ लग गई। एक साथ पांच मौतें हो जाने से हर किसी की आंख नम है। मृतकों के गांव में शोक व्याप्त हो गया। 

No comments