Recent comments

Latest News

समस्या निस्तारण को लेकर भाकियू ने दिया धरना

14 अगस्त को ज्ञापन देने के बाद भी नही हुई कार्यवाही

बांदा, कृपाशंकर दुबे । बीते 14 अगस्त को किसानों की समस्याओं के निस्तारण को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर समस्या का निस्तारण कराये जाने की मांग की थी। लेकिन 19 अगस्त तक समस्या का निस्तारण न होने पर भाकियू ने सोमवार को धरना प्रदर्शन कर समस्याओं के निस्तारण की मांग उठाई। कहा कि जब तक किसानों की समस्याओं का निस्तारण नही हो जाता, तब तक भाकियू आन्दोलन के लिये बाध्य होगा।
बैठक को संबोधित करते भाकियू पदाधिकारी 
डीएम को दिये गये ज्ञापन में भाकियू के जिलाध्यक्ष बलराम तिवारी ने बीते 14 अगस्त को बताया था कि बैंकों द्वारा आरसी जारी कर किसानों का उत्पीडन किया जा रहा है। जिससे किसान आत्महत्या के लिये मजबूर हो गया है। बीते 11 अगस्त को बबेरू तहसील के भदेहदू निवासी नीरज पटेल की मौत अमीन द्वारा परेशान करने के कारण हुई है। इसके अलावा जनपद बांदा में अन्ना उन्मूलन कार्यक्रम पूरी तरह से विफल है। अन्ना उन्मूलन सिर्फ मीटिंग तक सीमिति होकर रह गया है। धरातल में कोई कार्यवाही नही की जा रही है। जिससे किसानों की फसले खेतों में ही बर्बाद हो रही है। इसके अलावा बांदा के बैंकों द्वारा किसानों को दिया जाने वाला फसली ऋण नही दिया जा रहा है। इलाहाबाद बैंक, आर्यावर्त बैंकों के द्वारा केसीसी नही बनाये जा रहे है। किसानों का साहूकारों से ऋण मंहगे ब्याज पर लेना पड रहा है। वहीं जनपद में खुली गौशालाओं की जांच कराकर हकीकत परखे जाने की आवश्यकता है। क्योंकि जमीनी स्तर पर गौशालाओं में गौवंश का रखरखाव नही किया जा रहा है। उन्होने सभी समस्याओं को लेकर जिलाधिकारी से कार्यवाही किये जाने की मांग की थी। साथ ही कार्यवाही न होने पर 19 अगस्त से जिला मुख्यालय में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन किये जाने की चेतावनी दी थी। जिसके क्रम में सोमवार से भाकियू ने शहर मुख्यालय में धरना शुरू कर दिया है। इस दौरान भाकियू के महेन्द्र त्रिपाठी, रश्मी सिंह, आलोपीदीन तिवारी, धु्रव सिंह तोमर, राजाबाई, बैजनाथ अवस्थी, जे पी फौजी आदि उपस्थित रहे।

No comments