Recent comments

Latest News

पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने डीएम के माध्यम से प्रधानमंत्री को भेजा ज्ञापन

बांदा, कृपाशंकर दुबे । राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर प्रदेश के जिलाध्यक्ष बीरेन्द्र सिंह पटेल ने जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजकर नवीन पेंशन योजना के स्थान पर पुरानी पेंशन योजना पुनः प्रतिस्थापित किये जाने सहित अन्य समस्याओं के निस्तारण की मांग की है।
जिलाधिकारी को ज्ञापन देने आए शिक्षक 
प्रधानमंत्री को भेजे गये ज्ञापन में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के जिलाध्यक्ष बीरेन्द्र सिंह पटेल ने मांग की है कि शिक्षकों के आत्मसम्मान के संदर्भ में प्रेरणा ऐप लागू करने का आदेश निरस्त किया जाये। शिक्षा में तदर्थवाद समाप्त किया जाये और शिक्षकों का चयन एवं नियुक्ति स्थायी आधार पर हो। प्रारम्भिक शिक्षक का स्वरूप यथावत रखा जाये और सम्पूर्ण देश में सेवानिवृत्त की आयु, सेवा शर्ते, वेतनमान एवं भत्ते आदि केन्द्र के समान रखे जाये। इसके अलावा शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यो में पूर्णतः मुक्त रखा जाये। प्राथमिक विद्यालयों में कक्षावार शिक्षक दिये जाये। केन्द्र सरकार द्वारा प्राथमिक शिक्षा के लिये दिया गया बजट प्राथमिक शिक्षा पर ही व्यय किया जाये। मिडडे मीटर एवं अल्पाहार की व्यवस्था शिक्षकों द्वारा निष्पादित किये जाने से शैक्षणिक कार्य प्रभावित होते है। प्रारम्भिक शिक्षा के शिक्षकों के लिये पदोन्नति के अवसर नगण्य है। यही नही सेवाकाल में अतिरिक्त योग्यता, विशिष्ट योग्यता हासिल करने वाले शिक्षकों के लिये कैरियर एडवांसमेंट स्कीम का आभाव है। प्रत्येक विद्यालय में एक आया एवं एक सहायक कर्मचारी की नियुक्ति की जाये। साथ ही प्राथमिक शिक्षा के शिक्षकों को विधान परिषद में मत देने का अधिकार दिया जाये। इस दौरान संतोष मिश्रा, विद्याभूषण सिंह, मनोज सिंह, बीरेन्द्र पटेल, कालीचरन, शिवबरन आदि उपस्थित रहे।

No comments