Recent comments

Latest News

खनिज के अवैध परिवहन को बंद कराने की मांग

बुन्देलखण्ड ट्रक एसोसिएशन ने जिलाधिकारी को दिया ज्ञापन

बांदा, कृपाशंकर दुबे । खनिज के अवैध परिवहन व ओवरलोड वाहनों के परिवहन बंद कराये जाने सहित अन्य समस्याओं को लेकर बुन्देलखण्ड ट्रक एसोसिएशन ने जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर कार्यवाही की मांग की है। एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री के ओवरलोड पूर्णतः बंद करने के निर्देशों की धज्जियां उडाई जा रही है। परिवहन विभाग के अधिकारी धन अर्जन करने के कारण पारदर्शी कार्यवाही करने से बचते है।
जिलाधिकारी को ज्ञापन देने आए एसेासिएशन के पदाधिकारी 
डीएम के दिये गये ज्ञापन में बुन्देलखण्ड ट्रक एसोसिएशन के अध्यक्ष शिवकरन सिंह ने बताया कि जिले में विभिन्न जनपदों के मोरम, बालू, गिट्टी के ट्रक निर्धारित भार क्षमता से अधिक कुछ वाहन मालिक व परिवहन अधिकारीव कर्मचारी खनिज बैरियल एवं पुलिस की मिलीभगत से एवं लोकेशन से अवैध संचालन करके भारी मुनाफा कमा रहे है। जिसके फलस्वरूप आम मोटर मालिकों की गाडियांे का खर्च कर्मचारियों का वेतन वित्त पोषित ट्रकों की किस्त नही निकल पा रही है। उन्होने मांग की है कि लोडिंग प्वाइंट से अंडरलोड माल दिया जाये। बालू मोरम खदारों व डमप एवं क्रेशरों के पट्टा धारकों के ओवरलोड माल दिये जाने के कारण ट्रकों में चालान के साथ साथ पट्टा धारक एवं के्रशर मालिक के उपर भी उतने की जुर्माना लाग किया जाये। बिना एम एम 11 बालू व अन्य खनिजों को ढोने वाले ट्रकों एवं लोडिंग करने वाले पट्टा धारकों के विरूद्ध रिपोर्ट दर्ज की जाये। जनपद में ओवरलोड खनिज उत्पाद आने वाले यमुना नदी के पुल बेंदा घाट एवं चिल्ला पुल पर खनिज चेक पोस्ट स्थापित किये जायें। ओवरलोड ट्रकों एवं लादने वाले कम्पनियों पर दि प्रिवेन्शन आफ डैमेज टू प्रापर्टी एक्ट 1984 के अनुसार मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही कराई जाये। ओवरलोड का चालान जिस जनपद में हो, उससे पूर्व के जनपदों की परिवहन अधिकारियों एवं खनिज चेक पोस्टों के विरूद्ध कार्यवाही करने से भ्रष्टाचार मुक्त ट्रकों संचालन को बल मिलेगा। उन्होने जिलाधिकारी से मामले को संज्ञान में लेते हुये उचित कार्यवाही किये जाने की मांग की है। इस दौरान राजा सिंह, शिव सिंह, प्रमोद कुमार, मधुराम सिंह, चित्रांश निगम, सुभम प्रताप सिंह, इन्द्रवीर सिंह, अनुराग सिंह, कृष्णमुरारी, धु्रव सिंह, इशाक अहमद आदि उपस्थित रहे।

No comments