Recent comments

Latest News

बुंकियू ने भ्रष्ट थानेदार के खिलाफ शुरू किया आमरण अनशन

पांच सदस्यीय किसान नेताओं ने शुरू किया आमरण अनशन 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । पुलिस की साख पर भी कभी-कभी खूब बट्टा लगता है। थानेदार की कारगुजारी से लोग परेशान हो जाते हैं। बदौसा थानाध्यक्ष के खिलाफ बुंदेलखंड किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने मोर्चा खोलते हुए सोमवार से आमरण अनशन शुरू कर दिया है। बदौसा थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है। बुंदेलखंड किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विमल कुमार शर्मा ने लक्ष्मीकांत त्रिपाठी राष्ट्रीय संगठन प्रभारी, किरन पाठक् प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा, अनूपा सिंह जिलाध्यक्ष बांदा, मुन्ना मौर्य उर्फ साईंबाबा और प्रेमता देवी 
आमरण अनशन पर बैठे किसान 
को माला पहनाकर आमरण अनशन पर बैठाया। अनशनकारियों का कहना है कि बदौसा थानाध्यक्ष आलोक के द्वारा क्षेत्र के निर्दोष किसानों को फर्जी मुकदमों में फंसाने और फंसाने की धमकी देकर धन वसूली की जा रही है। इसकी शिकायत बुंदेलखंड किसान यूनियन के द्वारा कई बार पुलिस अधीक्षक व डीआईजी से की जा चुकी है लेकिन भ्रश्ट थानेदार के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके चलते मजबूरन बुंकियू को आमरण अनशन शुरू करना पड़ा। राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि जब तक थानेदार के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती, तब तक अनशन जारी रहेगा। इस मौके पर अनशनकारियों के अलावा किसान नेता अखिलेश रावत राष्ट्रीय सचिव, राजाभइया राजपूत तहसील प्रभारी कुलपहाड़, रामू महाराज प्रदेश सचिव, रामप्रसाद, बुद्धविलास, रामवरण यादव, बलराम, रामनरेश रयान, प्रेमलाल, बाला प्रसाद बुंदेलखंड प्रभारी, रामकिशोर शर्मा तहसील अध्यक्ष महोबा, उमा सिंह प्रदेश प्रवक्ता, विष्णु कुमार प्रदेश महामंत्री आदि सैकड़ों किसान मौजूद रहे। 

No comments