Recent comments

Latest News

घरेलू बिजली के तार से करंट, युवक की मौत

एक सप्ताह पहले बाबा की मौत पर घर आया था युवक
एक सप्ताह में दो मौतों के बाद परिवार में मचा कोहराम

बांदा, कृपाशंकर दुबे । अपने बाबा की मृत्यु के बाद शुद्धता संस्कार में शामिल होने आए युवक की घरेलू बिजली के तार से करंट लग जाने पर मौके पर मौत हो गई। परिजन उसे अस्पताल लाए, वहां भी चिकित्सकों ने युवक को मृत घोषित कर दिया।
मच्र्युरी हाउस में मौजूद मृतक पंकज का पिता व अन्य
जमालपुर गांव का रहने वाला पंकज (24) पुत्र गंगा प्रसाद अहमदाबाद और दिल्ली में रहकर पेंटिंग का काम करता था। 4 दिन पहले उसके बाबा रामाधार की मृत्यु हो गई थी। पंकज दो दिन पहले ही अपने घर वापस आया था। शुद्धता संस्कार में भीड़भाड़ अधिक होने के कारण घर की बिजली दुरुस्त कर रहा था। संयोग की बात है कि उस दौरान घर के अंदर कोई नहीं था। बोर्ड में तार जोड़ते समय सूने घर में पंकज करंट की चपेट में आ गया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। कुछ देर के बाद बहन रोशनी जब घर के अंदर पहुंची तो पंकज को अचेत पड़ा देखकर चीख पड़ी। शोर शराबा सुनकर परिवार के लोग मौके पर पहुंच गए। आनन-फानन में पंकज को उठाकर जिला अस्पताल लाए, वहां पर चिकित्सकों ने पंकज को मृत घोषित कर दिया। पंकज की मौत हो जाने के बाद परिवार में जैसे गम का पहाड़ टूट पड़ा। 
गौरतलब हो कि एक सप्ताह पहले पहले मृतक पंकज के बाबा रामाधार की मृत्यु हो गई थी। एक सप्ताह में परिवार के दो लोगों की मौत हो जाने के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। खबर पाकर मर्चरी हाउस पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक पंकज के पिता गंगा प्रसाद ने बताया कि पंकज उसका इकलौता बेटा था। अभी तक उसकी शादी नहीं हुई थी। पंकज की छह बहनें हैं जिनमें से दो की शादी हो चुकी है। चार बहनों में दो शादी के योग्य हैं। मृतक के पिता गंगा प्रसाद कुशवाहा मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं। उनकी तो बुढ़ापे की लाठी भी अब टूट गई है। मृतक पंकज की मां शकंुतला समेत परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। हादसे में युवक की मौत की खबर पाकर ग्राम प्रधान और लेखपाल भी जिला अस्पताल पहुंचे और परिजनों को ढांढस बंधाते हुए हर संभव मदद का आश्वासन दिया। 

No comments