Recent comments

Latest News

भव्य योगा कार्यक्रम 12 सितंबर को, डीएम ने किया जीआईसी ग्राउंड का निरीक्षण

मुख्य अतिथि के रूप में योगा के कुलाधिपति होंगे शामिल 
योगा कार्यक्रम की जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट में की समीक्षा बैठक

बांदा, कृपाशंकर दुबे -  आगामी 12 सितंबर को भव्य योगा कार्यक्रम का आयोजन राजकीय इंटर कालेज ग्राउंड में आयोजित किया जाएगा। जिलाधिकारी हीरालाल ने गुरुवार को जीआईसी ग्राउंड का लावलश्कर के साथ निरीक्षण किया। इसके बाद कलेक्ट्रेट में योगा की समीक्षा बैठक आयोजित की, इसमें अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।
जीआईसी ग्राउंड का निरीक्षण करते जिलाधिकारी हीरालाल 
जिलाधिकारी ने बताया कि इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में योगा के कुलाधिपति प्रो0 एच0आर0नागेन्द्र स्वामी विवेकानन्द अनुसंधान संस्थान बैंगलौर का आगमन होगा। 12 सितम्बर को सुबह 06ः00 बजे से 08ः00 बजे तक योगा का भव्य प्रोग्राम जीआईसी मैदान होगा। जिलाधिकारी ने जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम की समस्त तैयारियां समय से पहले कराना सुनिश्चित करें, जिससे किसी भी समस्या का सामना न करना पडे। उन्होंने कहा कि योग के माध्यम से शरीर, मन और मस्तिष्क को पूर्ण रूप से स्वस्थ्य किया जा सकता है। योग के जरिए न केवल बीमारियों से निदान पाया जा सकता है। अपितु इसे अपनी दैनिक दिनचर्या में शमिल कर शारीरिक और मानसिक तकलीफों को दूर किया जा सकता है। योग प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाकर जीवन में नव-ऊर्जा का संचार करता है। योग शरीर को शक्तिशाली और लचीला बनाये रखता है साथ ही तनाव से भी छुटकारा दिलाता है। जो रोजमर्रा की जिन्दगी के लिए बहुत ही आवश्यक है। इन्ही सब चीजों को दृष्टिगत रखते हुए जिलाधिकारी ने यह तय किया है कि साल के 365 दिन जनपद के तहसीलों, ब्लाकों, एवं सभी 471 ग्राम पंचायतों में घर-घर योगा कराया जायेगा, जिससे जनपद वासियों को स्वस्थ्य एवं निरोगी रखा जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि योग शरीर और मस्तिष्क को एक साथ संतुलित करके प्रकृति से जोडने का सबसे अच्छा माध्यम है। योग आशन और प्राणायाम का संयोग शरीर और मन के लिए श्ुाद्ध और आत्म अनुशासन का रूप माना गया है। उन्होंने कहा कि शरीर में रक्त प्रवाह बढाने का योग से अच्छा तरीका नही हो सकता। जिलाधिकारी ने सभी जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने-अपने कार्यालयों में एक सप्ताह तक योगा कराना सुनिश्चित करें और इसकी रिपोर्टिग जिला प्रशासन को करें क्योंकि हम अपने अधिकारियों को बीमार देखना नही चाहते हैं। इसीलिए योगा को दैनिक दिनचर्या में लागू करने की कार्ययोजना बनायी गयी है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी एवं कर्मचारी सफेद डेªस कोेड में नजर आयेंगे क्योंकि यह रंग शान्ती का प्रतीक होता है। उन्होंने जल संस्थान अधिशासी अभियंता को निर्देेशित करते हुए कहा कि 5 या 6 टैंकरों की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए जिससे पानी की समस्या न उत्पन्न हो सके। उन्होंने डी0एफ0ओ0 को निर्देशित करते हुए कहा कि उस एरिया के सभी झाडियों की कटायी-छटाई कराकर सफाई करायी जाए। उन्होंने नगर पालिका ई0ओ0 निर्देशित करते हुए कहा कि कल सुबह से उस एरिया की साफ-सफाई अभियान चलाकर करवाया जाए और मोबाइल ट्वालेट की भी व्यवस्था की जायेगी और जितने भी आस-पास सरकारी कार्यालय हैं उस दिन वहां के सभी बाथरूम खुला रहेंगे और वहां पर एक सफाई कर्मी जरूर तैनात किया जाए। बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) संतोष बहादुर सिंह, अपर जिलाधिकारी न्यायिक संजय कुमार, मुख्य विकास अधिकारी हरिश्चन्द्र वर्मा, डी0आर0डी0ए0 मनरेगा पी0डी0 आर0पी0मिश्रा, एस0डी0एम अतर्रा जे0पी0यादव, एस0डी0एम0 पैलानी मंसूर अहमद, एस0डी0एम0 सदर संदीप कुमार, एस0डी0एम सौरभ शुक्ला, लोक निर्माण विभाग के तीनों डिवीजनों के अधिशासी अभियंता सुमन्त कुमार, डी0एन0यादव, रामआसरे दोहरे, जिला पंचायत राज अधिकारी संजय यादव, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी हरिश्चन्द्र नाथ, अधिशासी अभियंता केन कैनाल अरबिन्द पाण्डेय, क्षेत्रिय आयुर्वेद यूनानी पी0आर0वर्मा, योगाचार्य रमेश सिंह राजपूत, प्रधानाचार्य जी0जि0आई0सी0 बीना गुप्ता सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

No comments