Recent comments

Latest News

मानक विहीन आतिशबाजी की दुकानें धड़ल्ले से हो रही संचालित



कोच हादसे के बाद भी प्रशासन ने नहीं लिया सबक

 उरई (जालौन) अजय मिश्रा - आतिशबाजी की दुकानों की सुरक्षा को लेकर भले ही तमाम नियम व शर्तें लागू हो, लेकिन यहां पटाखों  की बिक्री नियमों को ताक पर रखकर की जा रही है । जो कि कभी भी एक बड़े हादसे का रूप ले सकती है, बताते चलें कि नगर में जेल रोड स्थित रामकुंड के पास मैदान में आतिशबाजी की दुकानें संचालित है। जिनमें अग्नि सुरक्षा के मानकों की अनदेखी का मामला सामने आया है  सभी दुकानें मानक के विरुद्ध आमने-सामने  ही लगाई गई हैं जिसमें  दुकानों के बीच  पर्याप्त दूरी भी  नहीं है । जिससे कि अकस्मात हादसे के समय सभी दुकानों के चपेट में आने की संभावना प्रबल है।
    पिछले वर्ष कोच में हुए हादसे के बाद भी आतिशबाजी विक्रेताओं ने  कोई सबक नहीं लिया,  जबकि वहां पर  सभी दुकानें  एक लाइन में ही लगी थी और यहां तो सभी दुकाने  एक दूसरे के आमने सामने हैं । उस पर भी दुकानों के नजदीक लगे कबाड़ के ढेर व वहां रह रहे लोगों की वजह से भी हर पल हादसे की आशंका बनी रहती है । जब वे लोग अपने दैनिक उपयोग के लिए आग जलाते हैं, पटाखा विक्रेताओं व आम लोगों की सुरक्षा हेतु यदि प्रशासन ने समय रहते संज्ञान ले । आवश्यक कदम नहीं उठाएंगे तो किसी अप्रिय घटना से इनकार नहीं किया जा सकता।

No comments